जानिए 5 जबरदस्त और असरदार तरीके गुस्से को काबू करने के

gussa

Gussa : क्या आप गुस्सा पर काबू करना चाहते है? गुस्सा से क्या नुकसान होते है? जानकारी अब हिंदी में के एक और जानकारी से भरे आर्टिकल में।

नमस्कार दोस्तों,

स्वागत है आपका जानकारी अब हिंदी में के एक और जानकारी से भरे आर्टिकल में।

कई लोगो को गुस्सा खूब आता है, उनको बात-बात पर गुस्सा आ जाता है।

वे गुस्से को Control करने का प्रयास भी करते है लेकिन समय आने पर वे गुस्सा कर ही लेते है।

क्या आपको भी गुस्सा (Gussa) आता है और आप उस पर काबू करना चाहते है ?

आज में आपको बताऊंगा गुस्से को काबू करने के कुछ जबरदस्त और असरदार तरीके और गुस्सा करने से होने वाले नुकसान के बारे में

जानने के लिए जुड़े रहे हमारे साथ।

गुस्सा (Gussa) क्या है?

GUSSA KARNE VALA AADMI
Angry man

गुस्सा हमारे जीव प्राणी मात्र के नैसर्गिक या प्राकृतिक भावो में से एक है।

कई लोगो को जब गुस्सा आता है तब उन्हें अगल-बगल की परिस्थितियों का ख्याल नहीं रहता है और वो लोग गुस्से में किसी को भी कुछ भी बोल देते है या कर देते है, यह गुस्से का सबसे उग्र स्तर होता है।

कभी-कभार गुस्सा हमारी दुर्बलता का प्रतीक बन जाता है, वह दिखाता है की किसी न किसी स्थान पर हम दुर्बल है

कई बार हम हमारे गुस्से का कारण अन्य लोगो को मानते है किन्तु कड़वा सत्य यह है की हमारे गुस्से का कारण हम खुद ही है

आपको मैं बता दू की आप उन पर ही ज्यादा गुस्सा करते हो जो आपसे कमजोर हो

उदाहरण के तौर पर एक आदमी को उसके बॉस ने डांटा जिससे उसे गुस्सा आया और घर आकर अपने बेटे पर गुस्सा निकाला

गुस्सा (Gussa) क्यों आता है?

गुस्सा क्या होता है

दोस्तों, गुस्सा आने के कई कारण होते है, लेकिन यह है गुस्सा आने के 3 मुख्य कारण :

अगर हमारे आस-पास की घटना या कार्य हमें पसंद आता है तब हमे ख़ुशी होती है|

किन्तु, जब आस-पास की घटना या कार्य हमे पसंद नहीं आता है या अनुचित लगता है तब हमे गुस्सा आता है।

जैसे की, पढ़ाई के वक्त बेटे को खेलते देख बाप को गुस्सा आया।

गुस्सा आने की दूसरी वजह हमारी इच्छा या कामना हो सकती है। जब हमारी कोई इच्छा या कामना की पूर्ति नहीं होती है तब हम गुस्सा करते है। जैसे की, छोटे भाई ने बड़े भाई का कहा हुआ काम नहीं किया जिससे बड़े भाई को गुस्सा आयानिराशा और निष्फलता भी गुस्से का कारण बन सकता है

जैसे की, हम किसी कार्य के लिए सालों से मेहनत कर रहे थे उस काम में निष्फलता मिलने से गुस्सा आता है

गुस्सा (Gussa) आने से क्या नुकसान होते है?

गुस्सा (Gussa) आने से क्या नुकसान होते है?

कभी कभार कुछ बुरी आदतों के नुकसान जानने के बाद हमें उसे न करने की सभानता आती है।

गुस्सा एक ऐसी चीज है जो आपके अच्छे से अच्छे रिश्तों को बिगाड़ सकता है

वह हमारे रिश्तों में जहर भर सकता है

गुस्सा आने पर मनुष्य का अपने आप पर काबू नहीं रहता है, वह अपनों से भी कुछ भी बोल जाता है

बाद में अगर मनुष्य उसके गुस्से का शिकार होने वाले से माफ़ी भी मांग लेता है|

तब भी सामने वाले के दिल में कही न कही वह बात रह जाती है |

और रिश्तो में खटाश आ जाती है

तभी तो रहीम ने लिखा है की,

रहिमन धागा प्रेम का, मत तोड़ो चटकाय;
टूटे से फिर ना जुड़े, जुड़े गांठ पड़ जाये।


जो मनुष्य गुस्सा करता है वह गुस्सा करते वक्त भी दुखी होता है, गुस्सा करने के बाद वह दुखी ही रहता है।

आज मेडिकल साइंस ने भी माना है की जब आप गुस्सा होते है तब अपने आप में ही जहर घोल रहे होते हो

गुस्सा होने से तनाव बढ़ता है, गुस्सा करने के बाद हम कोई भी काम एकाग्रता से नहीं कर पाते।

ज्यादा गुस्सा करने वाले की इम्युनिटी सिस्टम धीरे धीरे कमजोर होने लगती है। गुस्सेल व्यक्ति विभिन्न मानसिक और शारीरिक बिमारिओ का शिकार बन जाता है।
गुस्सा करने से ब्लड प्रेशर बढ़ता है और मनुष्य की सोचने की शक्ति मंद हो जाती है।

गुस्सा हमारे मन को नकारात्मक विचारो से भर देता है।

हम हमारे सामने वाले व्यक्ति में लाख खुबिया होने के बावजूद उसकी दो-चार कमियां सोचने लगते है।
अत: गुस्सा करने वाला खुद को तो नुकसान पहुंचाता ही है|

बल्कि अपने आस-पास को लोगो को भी नुकसान पहुंचाता है।

गुस्से (Gussa) को काबू कैसे करे?

गुस्से के अनेकानेक नुकसान जानकर हमें यह तो पता चला की उसे काबू करना बहुत जरुरी है

किन्तु उसे काबू में करे कैसे ? तो यह है गुस्से को काबू करने के कुछ असरदार उपाय :

उपाय नंबर 1

कई बार हम गुस्से को काबू नहीं कर पाते क्योकि, हम हमारे गुस्से को अच्छा मानते होते है, लेकिन वह हमारी अज्ञानता ही है।

अगर हम हमारी यह मानसिकता को बदले |

और गुस्सा करने में दोषभाव देखे तो हम गुस्से को काबू या कम कर सकते है।

उपाय नंबर 2

गुस्से को काबू करने का एक और असरदार तरीका भूल जाना या माफ़ कर देना है

कभी कभार हम किसी के भला-बुरा कहने पे या अपमान करने से गुस्सा हो जाते है|

लेकिन हम उसे भूल ही जाये या माफ़ कर दे तो गुस्सा आता ही नहीं |

और खुद अंदर ही अंदर जलने वाली बदले की आग से भी बच सकते है।

उपाय नंबर 3

अगर आप किसी भी प्रकार के व्यसन का शिकार है तो उसे तुरंत छोड़े क्योकि यह गुस्से को बढ़ावा देने वाले तत्व है|

और हमारे शरीर को भी खूब नुकशानकर्ता है |

अपनी आकांशा, इच्छा या कामना पर Control करे क्योकि, अतिशय इच्छा या कामना ही हमारे गुस्से का कारण बनती है।

उपाय नंबर 4

आप कोई भी धर्म, जाती के हो लेकिन जब गुस्सा आये तब ईश्वर को याद करने से और उनका नाम स्मरण करने से हमारा गुस्सा हम जरूर काबू कर सकते है

अगर आप को ज्यादा गुस्सा आये तो तुरंत उस जगह को छोड़कर किसी दूसरी जगह चले जाये,

यह आपको गुस्सा काबू करने में और झगड़ा होने से भी बचा लेगा

उपाय नंबर 5

गुस्से को काबू करने का एक और कारगर तरीका है तुरंत ही अपने मन को किसी दूसरी चीज में व्यस्त कर देना। जिससे थोड़े समय के बाद आपका गुस्सा शांत हो जायेगा।

अगर आप चाहते हो की आपको गुस्सा बहुत कम आये तो आपको रोज सुबह योग, प्राणायाम या ध्यान करना चाहिए|

जिससे आपको आंतरिक ऊर्जा मिलेगी और आप अधिकतर समय शांत रह पाओगे

तो दोस्तों, यह थे गुस्सा काबू करने के कुछ प्रैक्टिकल और असरदार तरीके

हमें आशा है की यह आपके लिए भी असरदार और उपयोगी बनेंगे।

हमारे और लेख जो आपको जरूर पसन्द आयेंगे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*